Featured Posts

[Travel][feat1]

Galib Ki Shayari mirza galib shayari in hindi 2 lines - Shayari 4 Love

जुलाई 06, 2020
Galib Ki Shayari  Shayari 4 Love. पर आपका स्वागत है , मशहूर शायर मिर्जा ग़ालिब  साहब का नाम तो आपने जरूर सुना होगा ,  मिर्जा ग़ालिब साहब उर्दू एवं फ़ारसी भाषा के महान शायर थे। इनको उर्दू भाषा का सर्वकालिक महान शायर माना जाता है और फ़ारसी कविता के प्रवाह को भारतीय भाषा  में लोकप्रिय करवाने का श्रेय भी इनको दिया जाता है।

दोस्तों Shayari 4 Love आपके लिए लेकर आये है Galib Ki Shayari   की शायरी का बेहतरीन Collection यहाँ पर आप mirza galib shayari in hindi pdf , mirza galib shayari in hindi 2 lines , ghalib shayari on zindagi , mirza galib sad shayari , waqt shayari galib का आनंद ले सकते है.


Galib Ki Shayari -  mirza galib shayari Collection in Hindi :

Galib Ki Shayari , mirza galib shayari in hindi 2 lines


Rago Me dodte firne ke ham nhi kayal ,
Jab aankh hi se na tapka to fir lahu kya hai.

रगों में दौड़ते फिरने के हम नहीं क़ायल
जब आँख ही से न टपका तो फिर लहू क्या है.

Dard minnat-ksh-e-dava na hua me na achcha hua bura na hua.

दर्द मिन्नत-कश-ए-दवा न हुआ मैं न अच्छा हुआ बुरा न हुआ.

Vo aaye ghar me hamare , khuda ki kudrat hai !
Kabhi ham unko , kabhi apne ghar ko dekhte hai .

वो आए घर में हमारे, खुदा की क़ुदरत हैं!
कभी हम उनको , कभी अपने घर को देखते हैं.

Har ek bat pe kahte ho ki tu kya hai,

tumhi kaho ki ye andaj-e-guftgu kya hai.

हर एक बात पे कहते हो तुम कि तू क्या है,
तुम्हीं कहो कि ये अंदाज़-ए-गुफ़्तगू क्या है.

Ham ko malum hai jannat ki hakikat lekin dil ko khush rakhne ko 'Galib' ye khyal achcha hai.

हम को मालूम है जन्नत की हक़ीक़त लेकिन दिल को  ख़ुश रखने को 'ग़ालिब' ये ख़याल अच्छा है.

Hui Muddat ki 'galib' mar gya par yaad aata hai,

Vo har ek baat par kahna ki yu hota to kya hota.

हुई मुद्दत कि 'ग़ालिब' मर गया पर याद आता है,


वो हर इक बात पर कहना कि यूँ होता तो क्या होता .

Bijli ek koundh gayi aankho ke aage to kya,

Baat karte ki me lab tashan-e-takrir bhi tha.

बिजली इक कौंध गयी आँखों के आगे तो क्या,
बात करते कि मैं लब तश्न-ए-तक़रीर भी था।

Yahi hai aajmana to satana kisko kahte hai,

Adu ke ho liye jab tum to mera imthan kyu ho.

यही है आज़माना तो सताना किसको कहते हैं,
अदू के हो लिए जब तुम तो मेरा इम्तहां क्यों हो.

Ishq par jor nhi hai ye vo aatish 'Galib',
Ki lagaye na lage aur bujhaye na bujhe.

इश्क़ पर जोर नहीं है ये वो आतिश 'ग़ालिब',
कि लगाये न लगे और बुझाये न बुझे.

Tum na aaye to kya sahar na hui,

Ha magar chain se basar na hui,
Mera nala suna jamane ne,
Ek tum ho jise khabar na hui.

तुम न आए तो क्या सहर न हुई,
हाँ मगर चैन से बसर न हुई,
मेरा नाला सुना ज़माने ने,
एक तुम हो जिसे ख़बर न हुई.

Jala hai jism jha dil bhi jal gya hoga,

Kudrat ho jo ab rakh jutaju kya hai.

जला है जिस्म जहाँ दिल भी जल गया होगा
कुरेदते हो जो अब राख जुस्तजू क्या है.

Mere baare me koi ray mat banana galib ,
mera vakt bhi badlegateri ray bhi.

मेरे बारे में कोई राय मत बनाना ग़ालिब,
मेरा वक्त भी बदलेगा तेरी राय भी.


उम्मीद करते है यहाँ पर दी गई "Galib Ki Shayari , mirza galib shayari in hindi 2 lines " शायरी आपको पसंद आई होगी. यदि आपको शायरी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरूर करे. धन्यवाद.

Galib Ki Shayari mirza galib shayari in hindi 2 lines - Shayari 4 Love Galib Ki Shayari  mirza galib shayari in hindi 2 lines - Shayari 4 Love Reviewed by Virendra Singh on जुलाई 06, 2020 Rating: 5

Dr Rahat Indori Shayari Gjab Shayari collection in hindi

मई 18, 2020
Dr Rahat Indori Shayari Shayari 4 Love. पर आपका स्वागत है , मशहूर शायर डॉ राहत इन्दौरी साहब का नाम तो आपने जरूर सुना होगा , ये एक भारतीय उर्दू शायर और हिंदी फिल्मों के गीतकार हैं , डॉ राहत इन्दौरी साहब देवी अहिल्या विश्वविद्यालय इंदौर में उर्दू साहित्य के प्राध्यापक भी रह चुके हैं.
दोस्तों Shayari 4 Love आपके लिए लेकर आये है Dr Rahat Indori Sahab की शायरी का बेहतरीन Collection यहाँ पर आप Rahat indori shayari status , Rahat indori shayari in hindi images , Rahat indori shayari hath daba bhi dena ,  , Rahat indori nafrat shayri , Rahat indori shayari kisi ke baap ka hindustan , Rahat indori shayari bulati hai par jane ka nahi. का आनंद ले सकते है.


Dr Rahat Indori Shayari - Rahat indori sad shayari 2 line Collection in Hindi :

Dr Rahat Indori Shayari

Dosti Jab Kisi se ki jaye.
Dushmano se bhi Ray Li Jaye.

दोस्ती जब किसी से की जाए
दुश्मनों की भी राय ली जाए.

Naye safar ka naya intejam kah denge ,
Hava ko dhup , charago ko sham kah denge .

नए सफ़र का नया इंतज़ाम कह देंगे

हवा को धुप, चरागों को शाम कह देंगे

Sakho se tut jaye vo patte nahi hai ham,
Aandhi se koi kah de ki aukat me rahe.

शाख़ों से टूट जाएँ वो पत्ते नहीं हैं हम
आँधी से कोई कह दे कि औक़ात में रहे.

Vo Chahta tha ki kasa kahrid le mera,
Me us ke taj ki kimat laga ke laut aaya.

वो चाहता था कि कासा ख़रीद ले मेरा
मैं उस के ताज की क़ीमत लगा के लौट आया.

Aankho me pani rakho, hotho pe chingari rakho ,
Jinda rahna hai to tarkibe bahut sari rakho.

आँखों में पानी रखों, होंठो पे चिंगारी रखो

जिंदा रहना है तो तरकीबे बहुत सारी रखो.

Sarhado par tnav hai kya ,
Jara pata karo chunav hai kya .

सरहदों पर तनाव हे क्या ,

ज़रा पता तो करो चुनाव हैं क्या.

Gulab , Khwab , Dava , Jahar , Jam kya kya hai ,
Me aa gya hu bata intejam kya kya hai,
Fakir, sah, kalandar , imam kya kya hai,
Tujhe pata nhi tera gulam kya kya hai.


dr rahat indori shayari , Rahat indori shayari status , Rahat indori shayari in hindi images , Rahat indori shayari hath daba bhi dena ,  , Rahat indori nafrat shayri , Rahat indori shayari kisi ke baap ka hindustan , Rahat indori shayari bulati hai par jane ka nahi.


गुलाब, ख्वाब, दवा, ज़हर, जाम  क्या क्या हैं
में आ गया हु बता इंतज़ाम क्या क्या हैं
फ़क़ीर, शाह, कलंदर, इमाम क्या क्या हैं
तुझे पता नहीं तेरा गुलाम क्या क्या हैं.

Ajnabi khwahishe sine me daba bhi na saku,
Aise jiddi hai parinde ki uda bhi na saku,
Fook dalunga kisi roj me dil ki duniya,
Ye tera khat to nahi hai ki jala bhi na saku.

अजनबी ख़्वाहिशें सीने में दबा भी न सकूँ
ऐसे ज़िद्दी हैं परिंदे कि उड़ा भी न सकूँ
फूँक डालूँगा किसी रोज़ मैं दिल की दुनिया
ये तेरा ख़त तो नहीं है कि जला भी न सकूँ.

Tufano se aankh milaon, sailabon pe war karo ,
Mallaho ka chakkar chodo, tair kar dariya paar karo ,,

Phoolon ki dukane kholo, khushbu ka vyapar karo ,


Ishq khata hain, to ye khata ek baar nahi, sau baar karo.

तुफानो से आँख मिलाओ, सैलाबों पे वार करो ,
मल्लाहो का चक्कर छोड़ो, तैर कर दरिया पार करो ,,

फूलो की दुकाने खोलो, खुशबु का व्यापर करो ,
इश्क खता हैं, तो ये खता एक बार नहीं, सौ बार करो.


Kisi Ke Baap Ka Hindustan Thode Hi Hai  - Rahat Indori Shayari :

Agar khilaf hai , hone do , jan thodi hai,
Ye sab dhuna hai , koi aasman thodi hai,,

Lagegi aag to aayenge ghar kai jad me,
Yhan pe sirf hamara makan thodi hai,,

Me janta hu ki dushman bhi kam nahi,
Lekin hamari trah hatheli par jan thodi hai,,

Hamare muh se jo nikle vohi sadakat hai ,
Hamare muh me tumhari jban thodi hai,

Jo aaj sahib -e- mansad hai kal nahi honge,
Kirayedar hai jati makan thodi hai,,

Sabhi ke baap ka khoon shamil hai yhan ki mitti me,
kisi ke baap ka hindustan thodi hai.

अगर खिलाफ हैं, होने दो, जान थोड़ी है ,
ये सब धुँआ है, कोई आसमान थोड़ी है ,,

लगेगी आग तो आएंगे घर कई ज़द्द में ,
यहाँ पे सिर्फ हमारा मकान थोड़ी है ,,

मैं जानता हूँ की दुश्मन भी कम नहीं ,
लेकिन हमारी तरह हथेली पे जान थोड़ी है ,,

हमारे मुंह से जो निकले वही सदाक़त है ,
हमारे मुंह में तुम्हारी जुबां थोड़ी है ,,

जो आज साहिब-इ-मसनद है कल नहीं होंगे ,
किराएदार है जाती मकान थोड़ी है ,,

सभी का खून है शामिल यहाँ की मिटटी में ,
किसी के बाप का हिंदुस्तान थोड़ी है .

Rahat indori shayari bulati hai par jane ka nahi :

Bulati hai magar jane ka nahi,
Ye duniya hai idhar jane ka nahi ,,

Mere bete kisi se ishq kar ,
Magar had se gujar jane ka nahi ,,

jamin bhi sar pe rakhni ho to rakho ,
Chale ho to thahar jane ka nahi ,,

Sitare noch kar le jaunga ,
Me khali hath ghar jane ka nahi ,,

Vaba faili hui hai har traf ,
Abhi mahol mar jane ka nahi ,,

Wo gardan napta hai to nap le,
Magar Dushman se dar jane ka nahi .


बुलाती है मगर जाने का नहीं ,

ये दुनिया है इधर जाने का नहीं ,,

मेरे बेटे किसी से इश्क़ कर ,
मगर हद से गुज़र जाने का नहीं ,,

ज़मीं भी सर पे रखनी हो तो रखो ,
चले हो तो ठहर जाने का नहीं ,,

सितारे नोच कर ले जाऊंगा ,
मैं खाली हाथ घर जाने का नहीं ,,

वबा फैली हुई है हर तरफ ,
अभी माहौल मर जाने का नहीं ,,

वो गर्दन नापता है नाप ले ,
मगर जालिम से डर जाने का नहीं.

Rahat indori shayari hath daba bhi dena :


Raj jo kuch ho isharo me bata dena ,
Hath jab usse milao daba bhi dena ,,

Nasha vaise to buri she hai , magar ,
"Rahat" se sunni ho to thodi si pila bhi dena.

राज़ जो कुछ हो इशारों में बता देना ,
हाथ जब उससे मिलाओ दबा भी देना ,,

नशा वेसे तो बुरी शे है, मगर ,
“राहत”  से सुननी  हो तो थोड़ी सी पिला भी देना.


Rahat Indori Nafrat Shayari In Hindi : 

Ban ke ek hadsa bajar me aa jayega ,
Jo nahi hoga vo akhbar me aa jayega .

बन के इक हादसा बाज़ार में आ जाएगा ,
जो नहीं होगा वो अखबार में आ जाएगा .

Kabhi akele me milkar jhanjhod dunga use,
Jhan jhan se vo tuta hai jod dunga use ,,

Mujhe chod gya ye kamal hai uska,
irada maine kiya tha ki chod dunga use ,,

Pasine banta firta hai har traf suraj ,
Kabhi jo hath laga to nichod dunga use ,,

Maja chakha ke hi mana hu me bhi duiniya ko,
Samajh rahi thi ki aise hi chod dunga use .

कभी अकेले में मिलकर झंझोड़ दूंगा उसे,
जहाँ जहाँ से वो टूटा है जोड़ दूंगा उसे ,,

मुझे छोड़ गया ये कमाल है उसका,
इरादा मैंने किया था कि छोड़ दूंगा उसे ,,

पसीने बांटता फिरता है हर तरफ सूरज,
कभी जो हाथ लगा तो निचोड़ दूंगा उसे ,,

मज़ा चखा के ही माना हूँ मैं भी दुनिया को,
समझ रही थी कि ऐसे ही छोड़ दूंगा उसे .

उम्मीद करते है यहाँ पर दी गई "Dr Rahat Indori Shayari Gjab Shayari collection in hindi " शायरी आपको पसंद आई होगी. यदि आपको शायरी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरूर करे. धन्यवाद.

Dr Rahat Indori Shayari Gjab Shayari collection in hindi Dr Rahat Indori Shayari Gjab Shayari collection in hindi Reviewed by Virendra Singh on मई 18, 2020 Rating: 5

Gulzar Quotes in Hindi - Gulzar Shayari in Hindi | Best Shayari Collection of Gulzar in Hindi

मई 17, 2020
Gulzar Quotes in Hindi - Gulzar Shayari : Shayari 4 Love. पर आपका स्वागत है . दोस्तों Shayari 4 Love आपके लिए लेकर आये है गुलज़ार की शायरी का बेहतरीन Collection यहाँ पर आप Gulzar Quotes , Gulzar Shayari in Hindi , Gulzar shayari in hindi 2 lines , Gulzar shayari on yaadein , Gulzar shayari on zindagi , Gulzar shayari on eyes , Gulzar shayari MotivationalGulzar shayari on dosti , Gulzar shayari on khubsurti . का आनंद ले सकते है .


Best Shayari Collection of Gulzar - Gulzar Quotes in Hindi :

Gulzar Quotes , Gulzar Shayari in Hindi , Gulzar shayari in hindi 2 lines , Gulzar shayari on yaadein , Gulzar shayari on zindagi , Gulzar shayari on eyes , Gulzar shayari Motivational ,  Gulzar shayari on dosti , Gulzar shayari on khubsurti .

Tujhe Pahchanunga Kaise ? Tujhe Dekha hi nahi,
Dhunda karta hu tumhen apne chehre me hi kahin.

तुझे पहचानूंगा कैसे? तुझे देखा ही नहीं ,
ढूँढा करता हूं तुम्हें अपने चेहरे में ही कहीं.

Log kahte hai meri ankhe meri ma si hai,
Yu to labrej hai pani se magar pyasi hai.

लोग कहते हैं मेरी आँखें मेरी माँ सी हैं,
यूं तो लबरेज़ हैं पानी से मगर प्यासी हैं.

Kan me ched hai paidaishi aaya hoga,
Tune mannat ke liye kan chidaya hoga.

कान में छेद है पैदायशी आया होगा,
तूने मन्नत के लिये कान छिदाया होगा.

Yu Bhi Ek Baar To Hota Ki Samundar Bahta,
Koi Ehsas To Dariya Ki Ana Ka Hota.

यूँ भी इक बार तो होता कि समुंदर बहता,
कोई एहसास तो दरिया की अना का होता.


Gulzar Shayari on Zindagi :

Milta to bhut kuch hai zindagi me,
Bas ham ginti unhi ki karte hai jo hasil na ho sake.

मिलता तो बहुत कुछ है ज़िन्दगी में,
बस हम गिनती उन्ही की करते है जो हासिल न हो सका.

Din Kuch aise gujarta hai koi,
Jaise ehsan utarta hai koi.

दिन कुछ ऐसे गुजारता है कोई
जैसे एहसान उतारता है कोई.

Gulzar Shayari in Hindi 2 Lines:

"Aap ke bad har ghadi ham ne aapke sath Guzari hai".

"आप के बाद हर घड़ी हम ने आप के साथ ही गुज़ारी है."

Kanch Ke Piche Chand Bhi Tha Aur Kanch Ke Upar Kai Bhi ,
Tinon The Ham Vo Bhi The Aur Main Bhi Tha Tanhai Bhi.

काँच के पीछे चाँद भी था और काँच के ऊपर काई भी
तीनों थे हम वो भी थे और मैं भी था तन्हाई भी

Uthae Phirte The Ehsan Jism Ka Jan Par,
Chale Jhan Se To Ye Pairhan Utaar Chale.

उठाए फिरते थे एहसान जिस्म का जाँ पर
चले जहाँ से तो ये पैरहन उतार चले

Gulzar shayari on Yaadein:


Sahar Na Aai Kai Baar Neend Se Jaage,
Thee Raat Raat Kee Ye Zindagee Guzaar Chale.

सहर न आई कई बार नींद से जागे,
थी रात रात की ये ज़िंदगी गुज़ार चले.

Suno .... jara rasta to batana,
Mohabbat ke safar se, vapsi hai meri.


सुनो….ज़रा रास्ता तो बताना.
मोहब्बत के सफ़र से, वापसी है मेरी.

Gulzar Motivational Shayari in Hindi :

Uljhane bhi mithi ho sakti hai,
Jalebi is bat ki bat ki jinda mishal hai.

Gulzar motivational Quotes , Gulzar Motivational Shayari in Hindi

उलझने भी मीठी हो सकती है,
जलेबी इस बात की ज़िंदा मिसाल है.

Kaise kah du ki mahangai bhut hai,
Mere shahar ke chourahe par aaj bhi..
Ek rupaye me kai kai duvaye milti hai.

Gulzar Quotes , Gulzar Shayari in Hindi , Gulzar shayari in hindi 2 lines , Gulzar shayari on yaadein , Gulzar shayari on zindagi , Gulzar shayari on eyes , Gulzar shayari Motivational ,  Gulzar shayari on dosti , Gulzar shayari on khubsurti


कैसे कह दू कि महंगाई बहुत है,
मेरे शहर के चौराहे पर आज भी..
एक रुपये में कई कई दुआएं मिलती है.

उम्मीद करते है यहाँ पर दी गई "Gulzar Quotes in Hindi - Gulzar Shayari in Hindi | Best Shayari Collection of Gulzar in Hindi " शायरी आपको पसंद आई होगी. यदि आपको शायरी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरूर करे. धन्यवाद.

Gulzar Quotes in Hindi - Gulzar Shayari in Hindi | Best Shayari Collection of Gulzar in Hindi Gulzar Quotes in Hindi - Gulzar Shayari in Hindi | Best Shayari Collection of Gulzar in Hindi Reviewed by Virendra Singh on मई 17, 2020 Rating: 5

Motivational Shayari For Students | Motivation Shayari In Hindi | Inspirational Shayari in Hindi

मई 16, 2020
Best Motivational Shayari For Students in Hindi : Hi Welcome to Shayari 4 Love . Here We are Going To Share Best Motivational Shayari collection for Students in Hindi. If you are looking for Best Motivational Shayari So Just Read This post.
Hi Welcome to www.shayari4love.in. पर आपका स्वागत है . दोस्तों Motivation  यानि प्रेरणा हमारे जीवन में बहुत ही जरूरी है , हमें जीवन में कठिन से कठिन कार्यो को करने के लिए बहुत अधिक मेहनत , साहस , धर्य की आवश्यकता होती है जो की बिना प्रेरणा के संभव नही है , एक student को अपने जीवन में सफलता प्राप्त करने के लिए Motivation की बहुत जरूरत पड़ती है , यहाँ पर हम आपके लिए Best Motivational Shayari For Students लेकर आये है जो आपको भरपूर प्रेरणा देंगें,

Best Shayari Collection of  Motivational Shayari  For Students :

Best Shayari Collection of  Motivational Shayari  For Students

Pucho ki meri manjil kaha hai,
Abhi to safar ka vada kiya hai,
Na harunga housla umar bhar,
Ye maine kisi se nahi khud se vada kiya hai.

ना पूछो कि मेरी मंज़िल कहाँ हैं, 
अभी तो सफ़र का इरादा किया है, 
ना हारूँगा हौंसला उम्र भर, 
ये मैंने किसी से नहीं खुद से वादा किया है.

Jindagi jina aasan nhi hota,
Bina sangharsh ke koi mahan nhi hota,
Jab tak na pade hathode ki chot,
Patthar bhi bhagwan nhi hota.

Motivational Shayari for Students - ज़िन्दगी जीना आसान नही होता,  बिना संघर्ष के कोई महान नही होता,  जब तक न पड़े हथौड़े की चोट,  पत्थर भी भगवान नही होता.

ज़िन्दगी जीना आसान नही होता,
बिना संघर्ष के कोई महान नही होता,
जब तक न पड़े हथौड़े की चोट,
पत्थर भी भगवान नही होता.

Pani ko Barf me,
Badalne me vakt lagta hai,
Dhale hue suraj ko ,
Nikalne me vakt lagta hai.

पानी को बर्फ में,
बदलने में वक्त लगता है ,
ढले हुए सूरज को,
निकलने में वक्त लगता है .

Na thake kabhi pair na kabhi himmat hari hai,
housla hai jindagi me kuch kar dikhane ka,
Isliye abhi bhi safar jari hai.

ना थके कभी पैर ना कभी हिम्मत हारी है,
हौंसला है ज़िन्दगी में कुछ कर दिखाने का,
इसलिए अभी भी सफर जारी है .


Sangharsh me marg par jo vir chalta hai,
Vo hi is sansar ko badalta hai,
Jisne andhkar , musibat aur khud se jang jiti,
Surya bankar vahi nikalta hai.

संघर्ष के मार्ग पर जो वीर चलता हैं,
वो ही इस संसार को बदलता हैं,
जिसने अन्धकार, मुसीबत और ख़ुद से जंग जीती,
सूर्य बनकर वही निकलता हैं.

Hath bandhe khade ho hadso ke samne,
Hadse bhi kuch nahi hai houslo ke samne.

 हाथ बांधे क्यों खड़े हो हादसों के सामने,
हादसें भी कुछ नही है हौंसलो के सामने.  


Bujhi sama bhi jal sakti hai,
Tufano se kashti bhi nikal sakti hai,
Ho ke mayush yu na apne irade badal,
Teri kismat kabhi bhi badal sakti hai.

बुझी शमा भी जल सकती है,
तूफानों से कश्ती भी निकल सकती है,
हो के मायूस यूँ ना अपने इरादे बदल,
तेरी किस्मत कभी भी बदल सकती है.

Hosle Bhi Kisi Hakim Se Kam Nahi Hote,
Har Taklif Mein Takat Ki Dava Dete Hain.

Motivational Shayari for students हौसले भी किसी हकीम से कम नहीं होते,  हर तकलीफ़ में ताकत की दवा देते हैं.

हौसले भी किसी हकीम से कम नहीं होते,
हर तकलीफ़ में ताकत की दवा देते हैं.


Hoke mayush na yu sham se dhalte hai,
Jindagi bhor hai suraj sa niakalte rahiye.

होके मायूस न यूं शाम से ढलते रहिये,
जिन्दगी भोर है सूरज सा निकलते रहिये.

Diya Bujhane Ki Fitrat Badal Bhi Sakti Hai,
Koi Chirag Hawa Pe Dawab To Dale.

Motivational Shayari for students -दीया बुझाने की फितरत बदल भी सकती है,  कोई चिराग हवा पे दवाब तो डाले.

दीया बुझाने की फितरत बदल भी सकती है,
कोई चिराग हवा पे दवाब तो डाले.

Thoda dhiraj rakh,
Thoda aur jor lagata rah,
Kismat ke jang lage darvaje ko,
Khulne me vakt lagta hai.

थोड़ा धीरज रख,
थोड़ा और जोर लगाता रह ,
किस्मत के जंग लगे दरवाजे को,
खुलने में वक्त लगता है .

उम्मीद करते है यहाँ पर दी गई "Motivational Shayari For Students , Motivation Shayari In Hindi " शायरी आपको पसंद आई होगी. यदि आपको शायरी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर जरूर करे. धन्यवाद.

Motivational Shayari With Pictures in Hindi :

Motivational Shayari With Pictures in Hindi

safalta shayari

इन्हें भी पढ़े -
Motivational Shayari For Students | Motivation Shayari In Hindi | Inspirational Shayari in Hindi Motivational Shayari For Students | Motivation Shayari In Hindi | Inspirational Shayari in Hindi Reviewed by Virendra Singh on मई 16, 2020 Rating: 5
Blogger द्वारा संचालित.